राज्य मंत्रिमंडल में किस मंत्री को क्या मिला, देखिएं यहां

vashu yatra bjp rajasthanजयपुर। राज्य मंत्रिमंडल का विस्तार हो गया है। राजभवन में शपथ ग्रहण समारोह के बाद शाम साढ़े चार बजे सीएमओ में हुई कैबिनेट में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने मंत्रियों को उनका विभाग सौंप दिया है। मुख्यमंत्री ने ज्यादातर महकमे खुद के पास रखे हैं।

मुख्यमंत्री ने कार्मिक विभाग, राजस्तान राज्य अन्वेषण ब्यूरो, वित्त विभाग, कराधान विभाग, आबकारी विभाग, आयोजना विभाग, आयोजना (जनशक्ति और गजेटियर्स) विभाग, सांख्यिकी विभाग, मंत्रिमंडल सचिवालय, नीति आयोजना प्रकोष्ठ-मुख्यमंत्री सचिवालय, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग, सूचना प्रौद्योगिकी और संचार विभाग, ऊर्जा विभाग, जन अभियोग निराकरण विभाग, प्रशासनिक सुधार और समन्वय विभाग, विधि एवं विधिक कार्य विभाग और विधि परामर्शी कार्यालय अपने पास रखे हैं।

मंत्री
गुलाब चंद कटारिया को गृह और न्याय विभाग, आपदा प्रबंधन एवं सहायता विभाग, कारागार विभाग, होमगार्ड एवं नागरिक सुरक्षा विभाग, नंदलाल मीणा को जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग, राजेंद्र सिंह राठौड़ को पंचायती राज विभाग, ग्रामीण विकास विभाग, संसदीय मामलात विभाग, निर्वाचन विभाग, कालीचरण सराफ को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं (ईएसआई), चिकित्सा शिक्षा विभाग, आयुर्वेद एवं भारतीय चिकित्सा पद्धति, प्रभुलाल सैनी को कृषि विभाग (कृषि विपणन विभाग सहित), उद्यानिकी विभाग, पशुपालन विभाग, मत्स्य विभाग, गजेंद्र सिंह खींवसर को वन विभाग, पर्यावरण विभाग, युवा मामले और खेल विभाग, यूनुस खान को सार्वजनिक निर्माण विभाग, परिवहन विभाग, सुरेंद्र गोयल को जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, भूजल विभाग, राजपाल सिंह शेखावत को उद्योग विभाग, अप्रवासी भारतीय विभाग, राजकीय उपक्रम विभाग, डीएमआईसी, डॉ. रामप्रताप को जल संसाधन विभाग, इंदिरा गांधी नगर परियोजना विभाग, कृषि सिंचित क्षेत्रीय विकास और जल उपयोगिता विभाग, किरण माहेश्वरी को तकनीकी शिक्षा विभाग, उच्च शिक्षा विभाग, संस्कृत शिक्षा विभाग, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग, हेम सिंह भड़ाना को राजस्थान राज्य मोटर गैराज विभाग, सामान्य प्रशासन विभाग, संपदा विभाग, मुद्रण और लेखन सामग्री विभाग, अजय सिंह किलक को सहकारी विभाग, गोपालन विभाग, बाबूलाल वर्मा को खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग, उपभोक्ता मामले विभाग, अरुण चतुर्वेदी को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ विभाग, श्रीचंद कृपलानी को स्वायत्त शासन, नगरीय विकास विभाग, आवासन विभाग, डॉ. जसवंत सिंह यादव को श्रम विभाग, नियोजन विभाग, कारखाना और बॉयलर्स निरीक्षण विभाग दिया गया है।

राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)
अमराराम को राजस्व विभाग, उपनिवेशन विभाग, सैनिक कल्याण विभाग, पुनर्वास विभाग, जयपुर शहर पुनर्वास, पुन: बंदोबस्त विभाग, कृष्णेंद्र कौर (दीपा) को कला, साहित्य, संस्कृति और पुरातत्व विभाग, पर्यटन विभाग, नागरिक उड्डयन विभाग, वासुदेव देवनानी को शिक्षा विभाग (प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा), भाषा विभाग (स्वतंत्र प्रभार) एवं ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग तथा इसके अधीनस्थ प्राथमिक शिक्षा का स्वतंत्र प्रभार (राज्य मंत्री), राजकुमार रिणवा को देवस्थान विभाग, अनिता भदेल को महिला एवं बाल विकास, सुरेंद्र पाल सिंह टीटी को खान विभाग दिया गया है।

राज्य मंत्री
ओटाराम को गोपालन विभाग, पुष्पेंद्र सिंह को ऊर्जा विभाग, विधि एवं विधिक कार्य विभाग और विधि परामर्श कार्यालय, धनसिंह रावत को पंचायती राज विभाग, ग्रामीण विकास विभाग, संसदीय मामलात विभाग, निर्वाचन विभाग, बंशीधर बाजिया को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं (ईएसआई), चिकित्सा शिक्षा विभाग, आयुर्वेद एवं भारतीय चिकित्सा पद्धति, सुशील कटारा को जनस्वाथ्य अभियांत्रिकी विभाग, भू-जल विभाग, कमसा मेघवाल को जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग दिया गया है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Connect with Facebook

*