बीजेपी के पूर्व महामंत्री जुटे अपनी ही सरकार के खिलाफ आंदोलन की तैयारियों में

rajasthan cm vasundhara rajeविधानसभा घेराव की दी चेतावनी
जयपुर। बीजेपी के बड़े नेता और बीजेपी के पूर्व महामंत्री रामपाल जाट ने अपनी ही सरकार पर किसान विरोधी होने का आरोप लगाया है। अब तक भाजपा को किसान विरोधी सहित तमाम मुद्दों पर विपक्ष के हमले झेलने पड रहे थे, लेकिन अब भाजपा में अपने ही बगावत की रहा पर चल पडे हैं। इस बार राजे को अपने ही सिपेसालारों से चुनौती मिल रही हैं| बीजेपी के पूर्व महामंत्री रहे किसान नेता रामपाल जाट ने मुख्यमंत्री वसुंधरा पर कथनी और करनी का आरोप जड़ आंदोलन का बिगुल बजा दिया हैं|
जाट की नाराजगी हैं की सत्ता में आने से पहले वसुंधरा राजे ने अपने सुराज संकल्प पत्र जारी कर किसानों से कई वायदे किये थे| लेकिन अब सत्ता का गुमान कुछ इस कदर छाया की वो किसानों को ही भूल गई|जाट का आरोप था कि सरकार ने सूराज संकल पत्र में किसानों को समर्थन मूल्य, खाद, 8 घंटे बिजली सहित कई लोक लुभावन वायदे किये जिसकी बदौलत राजे राज को बड़ा जनाधार मिला, लेकिन सत्ता में आने के साथ ही सभी घोषण घोषण पत्र तक ही सिमट कर रह गई। अब किसानों सरकार को बजट सत्र तक समय दिया है। अगर बजट में किसानों के लिए घोषणा नहीं हुई तो प्रदेश के 101 गांव सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरेंगे। अगर किसानों के हितों की अनदेखी हुई तो विधानसभा की घेराव करेंगे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Connect with Facebook

*