चुनाव अपराधियों का अखाड़ा

October 15, 2013 0

भूरचन्द जैन, स्वतंत्र पत्रकार, बाड़मेर भारत में प्रजातंत्र प्रणाली का संचालन करने के लिए इसका मूल आधार है चुनाव। चुनाव के माध्यम से ही विभिन्न […]

भूखे-प्यासे रहें आस-पास के प्राणी, तो कर्मकाण्ड-अनुष्ठान सब हैं बेमानी

June 20, 2013 0

– डॉ. दीपक आचार्य धर्म जैसे विराट आकाश को लोगों ने कर्मकाण्ड, यज्ञ और अनुष्ठानों या कि नाम कमाने के लिए किए जाने वाले तथाकथित […]

प्रताप का स्मरण काफी नहीं मातृभूमि के लिए प्रतापी बनें

June 10, 2013 0

– डॉ. दीपक आचार्य  आज सभी स्थानों पर प्रातःस्मरणीय महाराणा प्रताप की जयंती मनाई जा रही है। महाराणा प्रताप जैसा विराट व्यक्तित्व भारतीय इतिहास का […]

सपनों की सौदागर रिफाइनरी

June 4, 2013 0

-अवधेश आकोदिया, वरिष्‍ठ राजनीतिक विश्‍लेषक  सूबे के बाड़मेर जिले में स्थापित होने वाली तेल रिफाइनरी इन दिनों सपनों की सौदागर बनी हुई है। पहले जिले […]

चांद पर छाए “गरीबी” के बादल

May 14, 2013 0

शबीक उस्मानी नागौर। इस दुनिया में मां बाप के लिए ओलाद से बढ़कर कुछ भी नहीं होता और जब वही ओलाद उनकी आँखों के सामने मौत के […]

1 2 3 4 7