वृंदा हल्दिया को मिला अमृता शेरगिल अवार्ड

सम्मानित करते हुए बालकृष्ण गोयल,धर्मवीर बालोदिया,राकेश कुमार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ थीम पर कठपुतली चित्र द्वारा सन्देश देती हुई वृंदा हल्दियाजयपुर शहर, जौहरी बाजार की निवासी वृंदा हल्दिया, राजस्थान स्कूल ऑफ आर्ट की स्टूडेंट ने फिर एक बार रेवाड़ी में अपनी कला का परचम लहराया। अपनी कठपुतली पेंटिंग द्वारा नारी सशक्तिकरण पर प्रकाश डाल चुकी वृंदा ने अमृता शेरगिल अवार्ड व स्पेशल अवार्ड प्राप्त कर फिर एक बार जयपुर जिले को गौरवान्वित किया।इन्हें पगड़ी पहनाकर भी सम्मानित किया गया।
वृंदा ने कठपुतली द्वारा भ्रुण हत्या एवं बेटी पढ़ाओ को दर्शाते हुए मध्य में भारत के नक्शे में अनेकों महिला कठपुतली के चेहरे बनाएं। इसमें वह बताती है कि भारत में एक दो नहीं लगभग सभी राज्यों में महिलाओं को उनकी इच्छा के विरुद्ध जाकर भ्रूण हत्या पर विवश किया जाता है। महिलाओं को समाज में परिवार अपनी इच्छा अनुसार कठपुतली की भांति समझता है। चित्र में नीले रंग का भी प्रयोग किया गया है जो बेटियों को खुले आसमान में उड़ने की ओर संकेत कर रहा हैं।
बालकृष्ण गोयल ने वृंदा की कृति की तारीफ करते हुए कहा कि यह बहुत ही सुंदर कृति है, जिसमें अत्यंत गहरा विचार विद्यमान है। कठपुतली द्वारा अपने विचारों को अभिव्यक्त करने की कला को क्रिएटिव प्रोसेस कहा।
मौका था रेवाड़ी जिले में एक नजर इंटरनेशनल आर्ट एग्जीबिशन व लाइव पेंटिंग प्रतियोगिता का। 8 मार्च महिला दिवस से प्रारंभ त्रिदिवसीय इस कला संगम में 14 राज्यों से 80 कलाकारों ने बावल रोड एक गार्डन में हिस्सा लिया। लाइव पेंटिंग प्रतियोगिता बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ थीम पर इन कलाकारों ने अपनी अपनी तूलिका से अपने भावों को उकेरा। प्रदर्शनी में लगभग 102 चित्रकारों की कलाकृतियों से पूरा हॉल सजा हुआ था।
कला प्रदर्शनी का उद्घाटन माननीय आरती राव नेशनल चैंपियन शूटर ने किया, तो वही मंजू बाला(अध्यक्ष जिला परिषद), धर्मवीर बालोंदिया (डी.ई.ओ. रेवाड़ी), राकेश कुमार(अधीक्षक सेंट्रल जेल दिल्ली),श्रीमती विनीता पीपल (चेयर पर्सन म्यूनिसिपल काउंसिल रेवाड़ी), बालकृष्ण गोयल (स्टेट कमीशन प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट) जैसे सरकारी अधिकारियों ने इस कला संगम में अपनी भागीदारी निभाई और इसे बहुत सरहाया।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Connect with Facebook

*


Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.