राजस्थान की विशाल कठपुतली ने बनाई बैंगलोर में अपनी जगह

dollजयपुर जिले की कलाकार वृंदा हल्दिया एवं बूंदी जिले के उमाकांत मीणा ने मिलकर 25 फुट की विशाल महिला कठपुतली बनाई।जयपुर आर्ट सम्मिट 2016 से 25 देशों में अपनी पहचान बना चुकी है।यह कठपुतली अब बेंगलुरु में अपनी खास जगह बना रही है। वहां के लोगों में इसके प्रति अपना ही उत्साह देखने को मिल रहा है।यह कठपुतली नारी सशक्तिकरण का संदेश देती हुई दिखाई गई है, जिसमें 25 फुट की विशाल कठपुतली के साथ साथ 6-6 फुट की 6 कठपुतलियां एवं आसपास 150 कठपुतलियां लटकी हुई दिखाई गई है। यह महिला उन महिलाओं को दर्शाती है ,जिन्होंने हमारे देश को सम्मानित किया है ।जैसे -हमारी पहली महिला प्रधानमंत्री,पहली महिला अध्यापिका, पहली महिला डॉक्टर ,पहली महिला टेस्ट ट्यूब बेबी, ऐसे ही अनेकों महिलाओं के नामों से पूरे वातावरण में उमंग एवं जोश का संचार हो रहा है।संपूर्ण इंस्टॉलेशन सभी का ध्यान अपनी ओर खींचने में सफल हो रही है।
इस कलाकृति के साथ-साथ कलकत्ता लखनऊ बड़ौदा मुंबई अन्य 23 स्थानों से अनेकों कलाकारों ने अपनी कलाकृतियों से वीआर बेंगलुरु मॉल की शान बढ़ा दी है। यह एग्जीबिशन 24 फरवरी से प्रारंभ होकर 24 मार्च तक चलेगी

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Connect with Facebook

*


Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.