एलर्जी टेस्ट के नाम पर फर्जीवाड़े का भंडाफोड़

fack-madical-camp-jerathजयपुर। दैनिक समाचार पत्रों में जैरेथ पैथ लेब एण्ड एलर्जी टेस्टिंग सेन्टर की ओर से दो दिवसीय शिविर लगाकर एलर्जी की जांच के बड़े-बड़े विज्ञापन देकर मरीजों से मोटी रकम ऐंठने वाले मामले का चिकित्सा विभाग ने शनिवार को भंडाफोड़ किया है।
चिकित्सा विभाग ने एलर्जी टेस्ट के नाम पर अनाधिकृत रूप से चल रहे कैम्प पर छापा मारकर उसे बंद कराया। बताया जा रहा है कि जिस टेस्ट को एलर्जी की जांच बताकर मरीजों से पैसा ऐंठा जा रहा था, वह जांच खून में एलर्जी की सेंसिटिविटी बताती है, न कि वह एलर्जी की जांच होती है।
इस टेस्ट के मरीजों से 2400 रुपए वसूले जा रहे थे। इस मामले में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अतिरिक्त निदेशक नीरज के पवन तक शिकायत पहुंची तो शनिवार को सीएमएचओ डॉ. नरोत्तम शर्मा, डिप्टी सीएमएचओ डॉ. प्रवीण असवाल व डॉ. हरिशंकर, एसएमएस अस्पताल के एलर्जी विशेषज्ञ डॉ. अजीत सिंह शक्तावत व डॉ. विवेक अथैया बनीपार्क के मीरा मार्ग स्थित कमल रेजीडेंसी में चल रहे शिविर में पहुंचे।
फारिया टेस्ट करके ऐंठ रहा था पैसा :
अतिरिक्त मिशन निदेशक नीरज के पवन ने बताया कि सुबह 11 बजे मौके पर पहुंचे तब तक वहां डॉ. प्रशांत जैरथ एक हजार मरीजों की जांच कर चुका था। इन मरीजों के जब एलर्जी टेस्ट की पड़ताल की तो उसमें एसएमएस अस्पताल से आए डॉक्टरों ने पाया कि शिविर में फारिया आईजीई टेस्ट किया जा रहा था जो कि खून में एलर्जी सेंसिटिविटी बताता है न कि यह बताता कि एलर्जी किससे है।
बेहद संक्रमित जगह व अप्रशिक्षित ले रहे थे सेम्पल :
सीएमएचओ डॉ. नरोत्तम शर्मा ने बताया कि जैरेथ पैथ लेब एण्ड एलर्जी टेस्टिंग सेन्टर की ओर से दो दिवसीय एलर्जी जांच शिविर का आयोजन कर खून की जांच से एलर्जी के कारण का पता लगाने का दावा किया गया था। शिविर स्थल पर बेहद गन्दगी थी। वेस्ट मैनेजमेन्ट भी समुचित रूप से नहीं किया जा रहा था। वहीं से पल लेने वाले न तो मास्क पहने हुए थे और न ही ग्लव्ज। अप्रशिक्षित लोग मरीजों के से पल ले रहे थे।
शिविर को बंद कराया, पैसा लौटाने के दिए निर्देश :
उसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कैप को बंद कराया और एक हजार मरीजों का पैसा वापस करने के लौटाने के निर्देश दिए गए हैं। गौरतलब है कि डॉ. जैरथ ने बीकानेर में भी एलर्जी टेस्ट के नाम पर 14 व 15 अगस्त को कैम्प लगाया था। वहां भी जब विवाद हुआ और लोगों ने शिकायतें की तो पुलिस और सीएमएचओ मौके पर पहुंचे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Connect with Facebook

*


Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.